Saturday, May 18, 2024
धर्मराष्ट्रीय

गलगल टोरिया प्रसिद्ध धाम – यहां हनुमान और जामवंत एक साथ देते है दर्शन, पांच अर्जी लगाने से पूरी होती है मनोकामना!

कलयुग के राजा हनुमान जी महाराज माने जाते हैं, और उनका विशेष पूजा दिन मंगलवार और शनिवार होता है। इस दिन हनुमान जी महाराज की पूजा अर्चना से सभी मनोरथ पूरे होते हैं। ऐसा माना जाता है कि सागर जिले में गलगल टोरिया प्रसिद्ध धाम है, जहां हनुमान जी महाराज और अमरता का वरदान पाने वाले जामवंत जी के एक परिसर में विराजमान हैं। इस प्रकार का मंदिर मध्य प्रदेश का एकमात्र है।

माना जाता है कि जो भी श्रद्धालु सच्चे मन से हनुमान जी और जामवंत जी की पूजा करने आता है, उनकी मनोकामना पूरी होती है। यहां आने वाले श्रद्धालु अगर किसी विशेष मनोकामना की इच्छा रखते हैं, तो उन्हें पांच मंगलवार या 11 मंगलवार तक लगातार मंदिर में पूजा करनी चाहिए और फिर अपनी मनोकामना पूरी होते हुए प्रस्तुत करनी चाहिए। इसके लिए, श्रद्धालु नारियल को सीधे मंदिर के परिसर में रखते हैं। मंदिर के किसी भी हिस्से में, वे एक रक्षासूत्र से गांठ बांधते हैं। मनोकामना पूर्ण होने के बाद, उनके सामर्थ्य के अनुसार वे मंदिर में सेवा या दान करते हैं।

इस मंदिर की वास्तुकला कितनी पुरानी है और इसकी स्थापना कैसे हुई, इसके बारे में किसी को नहीं पता है। बुजुर्ग लोग इस बारे में बताते हैं कि इसके इतिहास की जानकारी उनके पास नहीं है। यहां पर वर्षों से पूजा की जाती आ रही है, और यहां के भक्त लोगों के दुख-कष्ट कम हो रहे हैं। प्राचीन काल में, यहां पहाड़ी और जंगली क्षेत्र था, लेकिन अब जैसे-जैसे लोगों को इस मंदिर की महिमा के बारे में जागरूकता हो रही है, वहाँ के भक्तों की संख्या दिन पर दिन बढ़ रही है। पहले, यहां पर केवल एक चबूतरा था, लेकिन अब वहां पर एक भव्य और विशाल मंदिर बन चुका है।

गलगल टोरिया धाम सागर मुख्यालय से लगभग 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और यह सागर जबलपुर रोड पर स्थित है। मार्ग से लगभग 1 किलोमीटर दूर, इस पहाड़ी पर मंदिर स्थित है, और यहां पर हर मंगलवार और शनिवार को श्रद्धालुओं के द्वारा भीक दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *